आज फिर बढ़े तेल के दाम, 2.50 रुपये की राहत के बाद चार दिन में 1.16 रुपये महंगा हुआ डीजल

 

आज फिर बढ़े तेल के दाम, 2.50 रुपये की राहत के बाद चार दिन में 1.16 रुपये महंगा हुआ डीजल

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल पर आज 23 पैसे और डीजल पर 29 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. इसी के साथ दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 82 रुपये 26 पैसे हो गई.

नई दिल्ली: सरकार की ओर से पेट्रोल और डीजल पर मिली राहत का असर धीरे धीरे खत्म हो रहा है. सरकार की ओर से 2.50 रुपये की छूट के एलान के बाद आज लगातार चौथे दिन तेल की कीमतों में इजाफा हुआ है. राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत में 23 पैसे और डीजल की कीमत में 29 पैसे का इजाफा हुआ है. दिल्ली में आज पेट्रोल की कीमत 82.26 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 74.11 रुपये प्रति लीटर है. दिल्ली में कल पेट्रोल 82.03 रुपए प्रति लीटर और डीजल 73.82 रुपए प्रति लीटर था.

आर्थिक राजधानी मुंबई की बात करें तो यहां पेट्रोल 23 पैसे और डीजल 31 पैसे महंगा हुआ है. मुंबई में पेट्रोल 87.73 रुपए प्रति लीटर डीजल 77.68 रुपए प्रति लीटर मिल रहा है. मुंबई में कल पेट्रोल 87.29 रुपए प्रति लीटर और डीजल 77.37 रुपए प्रति लीटर था.

पेट्रोल-डीजल जीएसटी में आने में टाइम लगेगा: मंत्री
केंद्रयी मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कल एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत में कहा कि पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने में अभी वक्त लगेगा. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ”पेट्रोल, डीजल पर महंगाई की बात तो की जा रही है लेकिन दालों, सरसों, तेल, गेहूं के दामों में जो कमी आई है उसको लेकर मीडिया बात नहीं कर रहा है. इस पर भी ध्यान दिलाया जाना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि पेट्रोल, डीजल की कीमतों में कमी करने का चुनाव को ध्यान में नहीं रखा गया है बल्कि अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों के चलते सरकार के ऊपर काफी दबाव था. सरकार ने 2.5 रुपये और बीजेपी शासित राज्यों ने भी 2.5-2.5 रुपये की राहत देकर लोगों को दामों में 5 रुपये की राहत दी है लेकिन अन्य पार्टियां ये काम नहीं कर रही हैं.

कांग्रेस का हमला जारी
गुरुवार को केंद्र की मोदी सरकार ने आम लोगों को थोड़ी राहत देते हुए पेट्रोल-डीजल पर 2.50 रुपये प्रति लीटर कटौती की घोषणा की थी. इस घोषणा के बाद बीजेपी शासित राज्यों ने भी ईंधन तेल पर वैट कम किए थे. कांग्रेस ने दाम कम किये जाने और उसके बाद हुए बढ़ोतरी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा, “इससे मोदी सरकार का छल-कपट साफ उजागर होता है, जो उत्पाद कर में मामूली कटौती का बेशर्मी से श्रेय ले रही है और तेल कंपनियों को फिर पिछले दरवाजे से दाम बढ़ाने को कह रही है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *